< img height="1" width="1" style="display:none" src="//q.quora.com/_/ad/8cb7f305ad04491ba48248a6b9cd04f3/pixel?tag=ViewContent&noscript=1"/>
Pransu patrka
2020-09-16

आज से मार्गी हुए देव गुरु वृहस्पति, इन राशि के जातकों के लिए खुल गए तरक्की के द्वार...

credit: third party image reference

 सुख और समृद्धि का एक तत्व माना जाता है, देव गुरु बृहस्पति रविवार, 13 सितंबर, यानी रविवार को हिंदू धर्म के ग्रह हैं। अब बृहस्पति 20 जुलाई 2021 तक मार्गी में रहने वाला है। आज, बृहस्पति बृहस्पति, जो सुबह 6.10 बजे परेड किया जाता है, को कुछ राशियों के लिए बहुत फायदेमंद बताया जाता है, जबकि अन्य को थोड़ी परेशानी होती है। इससे पहले, देव गुरु 14 मई से इस विचार का पालन कर रहे थे। आओ, बीतने के बाद, यदि राशि चक्र के लिए भगवान पवित्र हैं, तो किसी भी राशि को देखभाल के साथ संभालना होगा।

 मेष राशि

 बृहस्पति का मार्ग मेष राशि वालों के आशीर्वाद से कम नहीं है। इस राशि के जातकों की सभी समस्याओं का समाधान होगा। नौकरी में पदोन्नति की संभावना है। सम्मान भी बढ़ता है। बच्चों के प्रति चिंता समाप्त हो जाती है।

 वृषभ

 अष्टम भाव में गुरु का परिवहन और गोचर वृषभ राशि के जातकों के लिए पहले की तुलना में बेहतर परिणाम लाने के लिए अनुकूल है। गलत लोगों के साथ जुड़ने से बचें, अन्यथा परिणाम विरोधाभासी होंगे। कोर्ट-से-कोर्ट के मामलों को भी नियमित किया जाना चाहिए। घरेलू वाहन खरीदने की भी संभावना है। लागत भी बढ़ेगी।

 मिथुन राशि

 मिथुन राशि वालो के लिए गुरु राह का शुभ संकेत है। इस राशि के युवक-युवतियों का विवाह भी संभव है। विवाह के लिए बातचीत भी सफल हो सकती है। यदि आप प्रमुख केंद्रीय या राज्य सरकार की एजेंसियों में काम करना चाहते हैं, तो आवेदन करने का यह सबसे अच्छा समय है। राजस्व धाराएं भी बढ़ेंगी। धार्मिक कार्यों में रुचि बढ़ेगी।

 कर्क राशि वाले लोगों के लिए देव गुरु बृहस्पति मिश्रित फल देने वाले हैं। इस राशि के स्थानीय लोगों को स्वास्थ्य संबंधी समस्या हो सकती है। दफ्तर में वरिष्ठों से संपर्क बनाए रखें अन्यथा परेशानी हो सकती है। स्थिर धन की वापसी और आकस्मिक धन प्राप्ति भी है। व्यावसायिक दृष्टिकोण से समय अनुकूल है। वित्तीय पक्ष में सुधार होने की संभावना है।

 सिंह सूर्य का प्रतीक है

 पंचम भाव में बृहस्पति का गोचर सिंह राशि के लिए शुभ साबित होता है। शिक्षा में सफलता मिलती है। सरकारी प्राधिकरण और अपने अधिकारों का पूरा उपयोग करें। स्वास्थ्य हर समय सकारात्मक है। बच्चों से संबंधित तनाव से राहत देता है। परिवार भी समर्थित है।

 कन्या

 कन्या राशि से चौथे भाव में होने से आपको आर्थिक लाभ मिलता है। परिवार में सहयोग की भावना जागृत होती है। लंबे समय से प्रतीक्षित कार्य पूरे होंगे। दसवें घर पर उनकी आशावाद के परिणामस्वरूप, केंद्र या राज्य सरकार पर काम पूरा हो जाएगा।

 तुला राशि

 तुला राशि के लोगों के लिए, तीसरे घर में बृहस्पति देव का परिवहन साहस और शक्ति बढ़ाता है। आपके निर्णयों और किए गए कार्यों की भी सराहना की जाएगी। परिवार के वरिष्ठ सदस्यों और भाई-बहनों से सहयोग मिलेगा। जीवनसाथी के साथ अच्छा समय बीतेगा।

 वृश्चिक

 गुरु के बनने से वृश्चिक राशि वालों का आर्थिक पक्ष मजबूत होता है। अचल संपत्ति से संबंधित मामले हल होंगे। यदि आप संपत्ति या वाहन आदि खरीदना चाहते हैं, तो समय सार का है। विदेशी दोस्तों या रिश्तेदारों से आने वाली सुखद खबर से दिल खुश हो जाता है।

 धनुराशि

 देव गुरु केवल बृहस्पति धनु में हैं, इसलिए यह समय धनु राशि के लिए बहुत अच्छा है। कोई फर्क नहीं पड़ता कि लोग इस राशि पर काम करना बंद कर देते हैं, यह आसानी से हो जाएगा। सभी वित्तीय कठिनाइयां भी समाप्त हो जाएंगी। शत्रु पराजित होंगे और न्यायालय कार्यालय में भी निर्णय आपके पक्ष में होगा।

 मकर राशि

 मकर राशि के लिए स्वामी का राह अच्छा नहीं है। उन्हें आर्थिक समस्याओं का सामना करना पड़ सकता है। उन हिस्सों से बचें जहां भाग अधिक है। चर्चा का अवसर भी मिलेगा। गरीबों की मदद के लिए हमेशा आगे आते हैं, जिससे सम्मान बढ़ता है।

 कुंभ राशि

 स्वामी का तरीका यह साबित करता है कि कुंभ राशि के लोगों के लिए अच्छा है। परिवार के वरिष्ठ सदस्यों और भाइयों द्वारा समर्थित। कार्यक्षेत्र में वरिष्ठों के साथ संबंध मजबूत होते हैं। अपनी ऊर्जा शक्ति की मदद से, वह कठिन परिस्थितियों पर काबू पा लेता है।

 मीन राशि

 दसवें घर में मीन राशि का स्वामी व्यापार वृद्धि का संकेत देता है। लंबे समय से रुके हुए काम पूरे होने की भी संभावना है। विदेशी नागरिक या विदेशी कंपनी में सेवा देने के लिए समय अच्छा है।

The views, thoughts and opinions expressed in the article belong solely to the author and not to RozBuzz-WeMedia.
134 Views
0 Likes
0 Shares